।।तमन्ना।।

मैं तो बैठा कुछ सोच रहा था दुनिया के रंग देख रहा था डूबा अपने ख्यालों में इक अलग जहाऩ संजो रहा था। उन्हें मेरे एक तरफ अमीरी खड़ी दिख रही थी दूसरी तरफ उन्हें गरीबी झुकी दिख रही थी

Read more

।।इन्तज़ार।।

इन्तज़ार है मुझे उस दिन का जिस दिन मेरा देश आज़ाद हो जाएगा अंग्रेज़ गये थे छोड़ कर जब उस दिन मेरा देश आज़ाद कहलाया था लेकिन मुझे इन्तज़ार है उस दिन का जिस दिन मेरा देश आज़ाद हो जाएगा।

Read more

।।हिंद।।

आज उन वीरों को याद करो उन देशभक्तों की पुकार सुनो शौर्य को अपने तुम जगाओ भारत को अपने तुम सजाओ रक्शक बनकर इस आज़ादी के अपने देश के गौरव को तुम बढाओ राष्ट्रगीत गाओ तिरंगा लहराओ आज़ादी के इस

Read more

।।आज़ादी।।

जिसका शेर सा था हौंसला  जिसकी हाथियों सी थी चाल मौत भी डरती थी मिलाने को नज़रें जिसके साथ वो वीर था वो शेर था वो शहीद-ए-आज़म भगत सिंह था उसके जैसा सूरमा न किसी माँ ने कभी जनमा न

Read more