ख्वाब

हमारी ज़िन्दगी में ख्वाबों की अलग अलग जगह होती है इन्हीं ख्वाबों से तो कुछ पाने की ख्वाहिशें होती है इन ख्वाबों को पाने के लिए ही तो हमारी दुनिया से भी जंग होती है उमर के हर पड़ाव पर

Read more

।।आईना।।

मैंने तो सिर्फ एक आईना बनना चाहा था, मुझे क्या पता था कि ये दुनिया  मेरे टूटने पर मुझे काँच ही समझ बैठेगी! आखिर एक आईना भी तो काँच तभी बनता है जब उसे तोड़ा जाए! क्यों भला कोई खुद

Read more

पहले की तरह।

पिछले कुछ सालों में  बहुत बदल गयी है ज़िंदगी और इस ज़िंदगी के साथ  बदल गयी है तू भी पहले तू हँसती थी मुस्कुराती थी और गाती भी थी।।। तू अब भी हँसती है लेकिन वो हँसी अब कुछ दबी

Read more

।।इन्तज़ार।।

इन्तज़ार है मुझे उस दिन का जिस दिन मेरा देश आज़ाद हो जाएगा अंग्रेज़ गये थे छोड़ कर जब उस दिन मेरा देश आज़ाद कहलाया था लेकिन मुझे इन्तज़ार है उस दिन का जिस दिन मेरा देश आज़ाद हो जाएगा।

Read more